8th Pay Commission: कर्मचारियों के लिए आ गई बड़ी खुशखबरी, अब इतनी बढ़ेगी सैलरी

वेतन आयोग किसी भी सरकारी कर्मचारी के वेतन का ढांचा बनाने एवं भत्तों और फायदे की समीक्षा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। ‌यही वजह है कि इस नियुक्त निकाय में जरूरी बदलाव करके सरकारी कर्मचारियों को लाभ दिया जाता है।

ऐसे में अधिकतर कर्मचारी 8th पे कमीशन कब लागू होगा के बारे में जानना चाहते हैं। दरअसल पिछले काफी दिनों से आठवें वेतन आयोग की मांग काफी ज्यादा बढ़ गई है। परंतु सरकार की तरफ से अभी ऐसा कोई भी बयान नहीं आया है कि इसे कब लागू किया जाएगा।

अगर आप भी एक सरकारी कर्मचारी हैं और आप 8वें वेतन आयोग के बारे में हर जानकारी पूरे विवरण के साथ जानना चाहते हैं, तो हमारा आज का यह लेख आपके लिए काफी ज्यादा उपयोगी हो सकता है। आज हम आपको बताएंगे कि 8th पे कमीशन को लेकर सरकार का क्या रुख है और इसे कब लागू किया जाएगा।

8th Pay Commission

सभी केंद्रीय और सरकारी कर्मचारियों को मौजूदा समय में 7वें वेतन आयोग के अंतर्गत सैलरी मिलती है। लेकिन कर्मचारियों की 8th पे कमीशन को लागू करने की मांग अब काफी ज्यादा बढ़ गई है। दरअसल कर्मचारी संगठन की तरफ से लगातार आठवें वेतन आयोग को गठन करने की मांग आ रही है। पर सरकार की तरफ से अभी तक 8वें वेतन आयोग को गठन करने को लेकर कोई भी आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

यहां आपको हम जानकारी के लिए बता दें कि हर 10 साल में वेतन आयोग को सरकार द्वारा गठित किया जाता है। इस प्रकार से नया वेतन आयोग जब लागू किया जाता है तो सरकारी कर्मचारियों की जो बेसिक सैलरी होती है इसमें 25% से लेकर 35% तक का इजाफा होता है।

अगर इस बार आठवां वेतन आयोग लागू कर दिया जाता है तो ऐसे में सरकारी और केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 26000 रूपए महीना तक हो सकती है। इसके साथ ही जो फिटमेंट फेक्टर होता है इसे भी बढ़ाया जाता है। अभी फिटमेंट फेक्टर 2.57 है और ऐसी संभावना है कि इस 3.68 तक किया जा सकता है।

8th पे कमीशन हर 10 साल में होता है गठित

यहां आपको हम बता दें कि वेतन आयोग को सरकार के द्वारा नियुक्त किया जाता है। यह एक ऐसा निकाय यानी सिस्टम है जो सभी सरकारी और केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी के ढांचे भत्तों और फायदे की समीक्षा करके इनमें बदलाव करने पर जोर देता है।
लेकिन नए वेतन आयोग को कभी भी लागू नहीं किया जा सकता बल्कि इसे हर 10 वर्ष में बदलाव करके गठित किया जाता है। यदि अब से पहले वेतन आयोग की बात करें तो 28 फरवरी 2014 को उस समय के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी ने 7वें वेतन आयोग को गठित किया था।
इस प्रकार से वेतन आयोग ने 19 नवंबर 2015 को अपनी पूरी रिपोर्ट सरकार को दे दी थी। इसके बाद फिर 1 जनवरी 2016 से सातवें वेतन आयोग को सरकार द्वारा लागू कर दिया गया था। तो अब 7वें वेतन आयोग को लागू हुए 10 साल पूरे होने वाले हैं और अब यह देखना है कि सरकार नए वेतन आयोग का गठन कब करेगी।

8th पे कमीशन के गठन होने की डेट

वैसे तो सभी कर्मचारियों द्वारा जोरदार तरीके से 8वें वेतन आयोग के गठन करने की मांग की जा रही है। परंतु सरकार की तरफ से अभी इसको लेकर कोई भी घोषणा नहीं की गई है। लेकिन इस बात की भी संभावना है कि 8 th पे कमीशन को 1 जनवरी 2026 तक गठित किया जा सकता है। इसलिए तब तक सभी सरकारी कर्मचारियों को अपनी उत्सुकता पर थोड़ा कंट्रोल करना होगा और सरकार की तरफ से सूचना की प्रतीक्षा करनी होगी।

नेशनल काउंसिल के सचिव शिव गोपाल मिश्रा ने लिखा पत्र

नेशनल काउंसिल यानी जॉइंट कंसलटेटिव मशीनरी फॉर सेंट्रल गवर्नमेंट एम्पलाइज के सचिव श्री शिव गोपाल मिश्रा ने कैबिनेट सचिव को एक पत्र लिखा है। जानकारी के लिए बता दें कि इस पत्र में इन्होंने केंद्रीय कर्मचारियों की मौजूदा आर्थिक स्थिति को नजर में रखते हुए तुरंत 8th पे कमीशन के गठन करने की डिमांड की है।

शिव गोपाल मिश्रा ने अपने पत्र में लिखा है कि साल 2015 के बाद सरकार का राजस्व कई गुना बढ़ गया है और इसके साथ ही टैक्स कलेक्शन में भी वृद्धि हुई है। परंतु अभी तक सरकारी कर्मचारियों की सैलरी में महंगाई के अनुसार बढ़ोतरी नहीं की गई है। इसलिए बढ़ती हुई महंगाई ने सरकारी पेंशनभोगियों और मौजूदा कर्मचारियों की क्रय शक्ति को बहुत ज्यादा कम कर दिया है।‌

आगे पत्र में नेशनल काउंसिल सचिव ने कहा है कि सरकार को अब इन सारी स्थितियों को देखते हुए शीघ्र ही 8वें वेतन आयोग को लागू करना चाहिए। मौजूदा समय में केंद्रीय कर्मचारियों की संख्या में भी लाखों की तादाद में कमी आई है जिसकी वजह से अन्य कर्मचारियों पर काम का बोझ भी काफी अधिक हो गया है। तो इसलिए सरकार को अब और इंतजार ना करके नया वेतन आयोग लाना चाहिए।

Leave a Comment

Join Whatsapp