Old Pension Scheme: कर्मचारियों के लिए आ गई बड़ी खुशखबरी, OPS पर नया आदेश जारी

सरकार के द्वारा देश के सभी राज्यों में विभिन्न प्रकार की पेंशन योजना का संचालन किया गया है ताकि जो लोग असहाय है तथा खुद सक्षम नहीं है उनके लिए इन पेंशनों के माध्यम से सहायता दी जा सके। देश के इन्ही राज्यों में मध्य प्रदेश में शामिल है जिसमें विभिन्न व्यक्तियों के साथ बुजुर्गों के लिए हर माह पेंशन की सुविधा दी जा रही है।

मध्य प्रदेश राज्य में 60 साल से ऊपर के जिन बुजुर्ग व्यक्तियों के लिए निरंतर पेंशन की सुविधा दी जा रही है उनके लिए हाल ही में बहुत ही बड़ी घोषणा करवा दी गई है। घोषणा के अंतर्गत यह बताया गया है कि मध्य प्रदेश राज्य में एक लाख से ज्यादा तक बुजुर्गों की पेंशन बंद करवा दी गई है।

जारी घोषणा में पेंशन बंद करवाए जाने की जानकारी के साथ इसके महत्वपूर्ण कारण तथा पुनः पेंशन प्राप्त करने के लिए समाधान भी उपलब्ध करवाया गया है। मध्य प्रदेश के जो बुजुर्ग व्यक्ति इस घोषणा को लेकर परेशान है उनके लिए हम इस आर्टिकल में संबंधित पूरी जानकारी देने वाले हैं ताकि उनके लिए संतुष्टि हो सके।

Old Pension Scheme

मध्य प्रदेश राज्य में लगभग 56 लाख से अधिक लोगों के लिए तक ऑनलाइन पेंशन योजना का लाभ दिया जाता है जिनमें सभी जिलों के बुजुर्गों को शामिल करवाया गया है। इस ओल्ड पेंशन स्कीम के जरिए सरकार 340 करोड रुपए तक खर्च करती है। परंतु अब सरकार के द्वारा एक लाख तक बुजुर्गों की पेंशन को रद्द करवाया जा चुका है।

इन बुजुर्गों की पेंशन रेड करवाई जाने के कई मुख्य कारण है जिसके द्वारा यह घोषणा लागू करवाई जानी आवश्यक हुई है। बता दे कि इस पेंशन स्कीम को इसी माह से बंद करवाया गया है अर्थात अब अगले माह से 1 लाख तक अपात्र बुजुर्गों के लिए यह क्रम बंद करवा दिया जाएगा।

क्यों किया गया बुजुर्गों को पेंशन से वंचित

मध्य प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा एक लाख तक बुजुर्गों के लिए 600 रूपय की पेंशन स्कीम को इसलिए बंद करवा दिया गया है क्योंकि सामाजिक न्याय विभाग के द्वारा जानकारी जारी करते हुए यह बताया गया है कि ऐसे व्यक्तियों के आधार नंबर, आयु एवं पता अपडेट किया गया तो यह 1 लाख तक बुजुर्ग अपात्र पाए गए हैं।

अपात्र पाए गए बुजुर्गों के लिए पेंशन योजना बंद कर दी गई है। पिछले समय में ऐसा होता था कि बुजुर्गों के लिए पेंशन योजना का लाभ केवल बीपीएल राशन कार्ड एवं पासपोर्ट साइज फोटो के आधार पर ही मिल जाता था परंतु नियम जारी करवाते हुए यह बताया गया है कि आप लोगों के लिए पेंशन हेतु पूरे दस्तावेज आवश्यक होंगे।

पुनः पेंशन प्राप्त करने के लिए करने होंगे यह कार्य

जैसा कि हमने बताया है कि बुजुर्ग व्यक्तियों की महत्वपूर्ण जानकारी अपडेट करवाई जाने के बाद ही अपात्र लोगों के लिए पेंशन बंद करवाई गई है। ऐसे बुजुर्ग व्यक्ति जिनके पेंशन का लाभ बंद हो चुका है उनके लिए अगर पुनः पेंशन प्राप्त करनी है तो उनको फिर से अपने सभी दस्तावेज की जानकारी देनी आवश्यक होगी।

अगर सामाजिक न्याय विभाग में ऐसे बुजुर्ग व्यक्ति अपने दस्तावेजों की जानकारी पहुंचा देते हैं तो उनके लिए 15 जुलाई 2024 तक पुनः पेंशन योजना का लाभ शुरू करवा दिया जाएगा। मध्य प्रदेश राज्य में जिन पेंशन योजना का लाभ बंद किया गया है उसकी जानकारियां ऑनलाइन माध्यम से आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

अपात्र किए गए व्यक्ति हेल्पलाइन से करें संपर्क

जिन बुजुर्ग व्यक्तियों की पेंशन बंद करवाई गई है तथा उनके लिए अब चिंता हो रही है ऐसे सभी व्यक्ति जारी करवाए गए हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से भी संपर्क कर सकते हैं। जारी करवाइए हेल्पलाइन नंबर आपके लिए सामाजिक न्याय विभाग के ऑफिशल पोर्टल पर मिल जाएंगे।

इन नंबरों के माध्यम से सीधे आप मध्य प्रदेश राज्य सरकार के जरिए जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सरकार के द्वारा यह कार्यवाही इसलिए करवाई गई है ताकि अपात्र लोग इस सुविधा का गलत लाभ न उठा सके बल्कि जो बुजुर्ग व्यक्ति गरीब है केवल उन्हीं के लिए पेंशन दी जाए।

Leave a Comment

Join Whatsapp