राशन कार्ड योजना जोकि काफी प्राचीनतम योजनाओ में से एक है जिसके द्वारा आज भी कई गरीब परिवार अपनी जीवनी व्यतीत कर रहे हैं।

राशन कार्ड दस्तावेज श्रेणी के आधार पर तीन भागों में वर्जित किया गया है एपीएल, बीपीएल, एएवाय जिसे नागरिकों के जीवनस्तर के आधार पर वितरित किया जाता है।

राशन कार्ड योजना के तहत गरीबी रेखा से निचे गुजारा कर रहे नागरिको के लिए उचित मूल्यों में अनाज व अन्य राशन उपलब्ध कराया जाता  है। 

इस योजना के अंतर्गत खाद्य सामग्री तो मुहैया करवाई ही जाती है साथ ही विभिन्न सरकारी योजनाओ का लाभ भी पात्र नागरिको को दिया जाता है। 

राशन कार्ड योजना का लाभ लेने के लिए सर्वप्रथम आवेदन देना होता है उसके पश्चात लाभार्थी सूची को जारी किया जाता है, जो आपकी पात्रता की पुष्टि करती है।

विभाग द्वारा जारी लाभार्थी सूची में जिन नागरिको का नाम शामिल होता है केवल उन्ही को राशन कार्ड से नवाजा जाता है। अन्य व्यक्तियों के आवेदन को निरस्त कर दिया जाता है। 

आवेदन के पश्चात अगर आपका नाम लाभार्थी सूची में नहीं आ रहा है तो या तो आप इस योजना के लिए अपात्र हैं, या फिर आपके आवेदन में कोई त्रुटि रह गयी है। 

इस योजना के अंतर्गत आवेदन के लिए आपकी नागरिकता भारतीय होनी चाहिए एवं आपकी आयु 18 वर्ष के ऊपर होनी चाहिए और धारक को अपने परिवार का मुखिया होना चाहिए।

विभाग द्वारा जारी लाभार्थी सूची की जांच आप अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन  कर सकते हैं।